MCB in Hindi, MCB kitne prakar ke hote hai| कार्यप्रणाली,उपयोग,लाभ,हानिया

0
158

तो दोस्तों आज के MCB in Hindi इस आर्टिकल में हम mcb के बारेमे सब जानकारी लेने वाले है जैसे की mcb कितने प्रकार के होते है, यह यंत्र किस तरह से काम करता है, उपयोग, लाभ हानिया इन सभी के ऊपर हम जानकारी लेंगे |

MCB in hindi
MCB in Hindi

MCB क्या होता है? (What is MCB in hindi ?)

MCB एक इलेक्ट्रिकल उपकरण है जो automaticaly operate होता है ताकि कम voltage वाले सर्किट को शोर्ट सर्किट या ओवरलोड की वजह से उत्पन्न होने वाले करंट से बचाव कर सके और उपकरण कुछ बाधा न पंहुचा सके | साधारण तौर पर देखा जाये तो एमसीबी का रेटेड करंट 100 A तक होता है | याने की यह उपकरण circuit breaker का काम करती है |

MCB का फुलफॉर्म क्या होता है? (MCB fullform in Hindi)

MCB का फुल फॉर्म होता है Miniature Circuit Breaker

यह उपकरण आपको और घर के उपकरणो को बिजली से होनेवाले नुकसान से बचाता है. यह breaker जब overload या फिर short circuit हो जाता है उस समय काम करता है
यह उपकरण किसी भी fault के स्थिती मे tripping का काम करता है,

इस से पहले fuse का उपयोग किया जाता था और उसमे low melting का तार लगाया जाता था जब fault हो जाता तब हमे इस तार को बदलना पडता था लेकिन उसकी जगह अब mcb ने ली है जो fault मे automatically trip हो जाती है और fault clear होने के बाद हम उसको फिर से चालु कर सकते है

Mcb काम कैसे करता है? (Working principle of MCB in hindi):-

इसमे sencing element लगाये जाते है, एमसीबी के अंदर Electromagnet होता है जो normal condition मे current के अनुसार magnetic field को generated करता है जैसे ही current बढता है magnetic field और strong होती है,

Short circuit की स्थिति मे current बढता है magnetic field भी बढता हे इस electromagnet के अंदर लोहे का cylinder और पिन रखी जाती है जैसे ही, current बढता हे cylinder automatically press होता है तब triggering mechanism द्वारा cantact open किया जाता है ,

लेकीन high current होने की वजह से air discharge याने कि current हवा से भी बह सकता है high current हो ने कि वजह से arc produce होता हे जिसको arc runner of Arc shoot (number of plate connected in parallel) Absorb करता है.

Overload तब होता है जब हम उसके ampere rating से ज्यादा load देते है ,लेकिन overload condition मे short circuit की current कम बढता है अगर शोर्ट सर्किट से तुलना की जाये तो |

अगर इसमे हम electromagnetic coil लगाते है तो वो due to inrush current (starting current which is high at the starting) तो वो mcb को trip कर देगा,तो इसिलिए एमसीबी मे bimetallic trip का इस्तेमाल किया जाता है

जो inrush current को offset करता है और overload current 2sec से ज्यादा होता है तो heating की वजह से bend हो जाती है इस वजह से c shape liver और mcb liver निचे कि तरफ push करती है इस प्रकार से वो contact को open करती है.
इस प्रकार से short circuit और overload से होनेवाले खतरो से बचाता है.

MCB kitane prakar ke hote hai? (Types of MCB in Hindi)

  1. B type (बी टाइप)
  2. C type (सी टाइप)
  3. D type (डी टाइप)
  4. K type (के टाइप)
  5. Z type (जेड टाइप)

एक प्रकार self operated switch है,जो overload and shork circuit condition मे automatically tripping का काम करता है.

1) B type (बी टाइप) :-

इस प्रकार के एमसीबी का उपयोग सामान्यतः घर मे किया जाता है.अगर I जितना rating का एमसीबी उससे 3 to 5 times ज्यादा current जाता है तो उस mcb को 0.04 से 13 sec मे trip कर देता है|

2) C type (सी टाइप) :-

इस प्रकार के एमसीबी का उपयोग घर मे और industry किया जाता है.अगर I जितना rating का एमसीबी उससे 5 से 10 times ज्यादा current जाता है तो उस mcb को 0.04 से 5 sec मे trip कर देता है.

3) D type (डी टाइप):-

इस प्रकार का एमसीबी को ज्यादा करंट वाले उपकरणों में इस्तेमाल किया जाता है, जैसे की welding machine, motor
जितना rating का mcb उससे 10 से 20 times ज्यादा current जाता है तो उस mcb को 0.04 से 3sec मे trip कर देता है.

4) K type (के टाइप):-

इसको sensitive mcb भी कहा जाता है, जितना rating का mcb उससे 8 से 10 times ज्यादा current जाता है तो उस mcb को 1 millisecond मे trip कर देता है इसका उपयोग semiconductor devices ,charger control device मे किया जाता है.

5) Z type (जेड टाइप)

इसको भी sensitive mcb भी कहा जाता है, जितना rating का mcb उससे 2 से 3 times ज्यादा current जाता है तो उस mcb को 1 millisecond मे trip कर देता है.इस type का mcb motherboard,eltronic circuit protection के लिए उपयोग करते है.

एमसीबी के रेटिंग को कैसे कैलकुलेट करे?

Ex.for single phase
V = 230
P = 1kw(1×1000)=1000W
I = p÷v
I = 1000÷230
= 4.346
लेकिन जब भी हम एमसीबी लगाते है तब 15 से 20% ज्यादा का लगाते है तो
4.5×20÷100
=4.5÷5
=0.9
तो
4.5+0.9
=5.4 A(लेकिन 5.4 एमसीबी मार्केट में मिलती नहीं तो हम 6A MCB लगा सकते है।

Ex.for three phase
V = 415
P = 5kw(1×5000)=5000W
I = p÷v
I = 5000÷415×√3
=5000÷415×1.734
=5000÷719.61
=6.94

लेकिन जब भी हम एमसीबी लगाते है तब 15 से 20% ज्यादा का लगाते है तो
6.94×20÷100
=6.94÷5
=1.388
तो
6.94+1.388
=8.32 A (लेकिन 8.32 एमसीबी मार्केट में मिलती नहीं तो हम 10A MCB लगा सकते है।

एमसीबी मैं overcurrent में कैसे काम करता है और overcurrent याने क्या होता है?

एमसीबी मैं सेंसिंग एलिमेंट लगाए जाते है याने की एक electromagnet उस में सिलेंडर और पिन होती है जैसे की current जाता है वो अपना मैग्नेटिक फील्ड तैयार करता है,अगर overcurrent की स्थिति आती है तब एस electromagnet मैं मैग्नेटिक फील्ड भी बड़ जाता हैं तब सिलेंडर प्रेस होता है कनेक्टेड कॉन्टैक्ट्स को ओपन करता है।
Overcurrent की स्थिति कब आती जब कोई तार में स्पार्किंग हो या फिर तार किसी दूसरे तार या बॉडी को कनेक्ट हो तब उस वक्त high current निर्माण होता है तो उस स्थिति को overcurrent बोलते है|

MCB के फायदे (Advantages of MCB)

  1. एमसीबी fuse से ज्यादा संवेदनशील होता है|
  2. MCB को ट्रिप होने के बाद भी बार बार इस्तेमाल कर सकते है|
  3. ट्रिप होने के बाद फिरसे एम सी बी को चालू करना बोहोत आसान होता है |
  4. शोर्ट सर्किट होने पर यह बोहोत तेजीसे से ट्रिप होता है, याने की फाल्ट को आगे जानेसे पहले रोक लेता है |
  5. mcb को लगाना या इस्तेमाल करना फ्यूज को इस्तेमाल करना और लगाने से आसान

MCB के नुकसान (Disadvantages of MCB)

  1. इनका मूल्य फ्यूज से ज्यादा होता है |
  2. एमसीबी डिस्ट्रीब्यूशन बोर्ड का मूल्य ज्यादा होता है फ्यूज के डिस्ट्रीब्यूशन बोर्ड के मुकाबले |
  3. अगर किसी व्यक्ति को लोड या mcb के बारेमे पता नहीं है और उसने ज्यादा amp का mcb लगा दिया तो शॉक, शोर्ट सर्किट या उपकरण ख़राब हो सकते है |

MCB के इस्तेमाल (Application of MCB)

  1. घरो में फ्यूज के बदले एमसीबी का इस्तेमाल किया जाता है |
  2. इंडस्ट्रीज में
  3. उपकरण या घरो को ओवर लोड से बचाने के लिए mcb का इस्तेमाल किया जाता है|

FAQ Related to MCB in hindi (एमसीबी) से जुड़े प्रश्न उत्तर:-

  1. MCB क्या होता है? (What is MCB?)

    MCB एक इलेक्ट्रिकल उपकरण है जो automaticaly operate होता है ताकि कम voltage वाले सर्किट को शोर्ट सर्किट या ओवरलोड की वजह से उत्पन्न होने वाले करंट से बचाव कर सके और उपकरण कुछ बाधा न पंहुचा सके | साधारण तौर पर देखा जाये तो एमसीबी का रेटेड करंट 100 A तक होता है | याने की यह उपकरण circuit breaker का काम करती है |

  2. कितने पोल के एमसीबी मार्केट मैं मिलते हैं।

    सिंगल पोल, डबल पोल, थ्री पोल, फोर पोल.

  3. Maximum कितने एम्पीयर का एमसीबी मार्केट में मिल है।

    100 A

  4. एमसीबी और फ्यूज (Fuse) मैं फायदेमंद होता है?

    “एमसीबी” क्यों की एमसीबी सर्किट को फॉल्ट कंडीशन मिले करता है,फॉल्ट क्लियर हो जाने के बाद हम एमसीबी को फिर से चालू कर सकते है।
    लेकिन फॉल्ट कंडीशन में अगर फ्यूज उड़(blown) जाता है तो हमे उस फ्यूज को बदलना पड़ता है नही तो उसने उस रेटिंग का तार डालना पड़ता है।

  5. एमसीबी ओवरलैड प्रोटेक्शन कैसे देता है ?

    एमसीबी मैं ओवरलोड प्रोटेक्शन के लिए एक बायामेटलिक स्ट्रिप का इस्तेमाल किया जाता है जैसे ही ओवरलोड आता है बाइमेटलिक स्ट्रिप गरम होके बैंड हो जाती है और उस वजह से कॉन्टेक्ट ओपन हो जाते है ।

  6. एमसीबी का में फंक्शन क्या है।

    सर्किट को ओवरकरेंट(overcurrent) एंड ओवरलोड(ओवरलोड) फॉल्ट से बचाना ।

  7. MCB का फुलफॉर्म क्या होता है? (MCB fullform in Hindi)

    MCB का फुल फॉर्म होता है Miniature Circuit Breaker

  8. MCB मैं ओवरलोड याने क्या होता है ।

    अगर एक 6A एमसीबी है उसके ऊपर है 6A से ज्यादा लोड देते है तो उसको हम ओवरलोड बोलते है।
    Ex.अगर हम 6A एमसीबी के ऊपर वेल्डिंग मशीन लगाएंगे तो ओह बार बार ट्रिप होगा क्योंकि वेल्डिंग मशीन
    6A से ज्यादा करेंट लेगा याने की ओवरलोड से एमसीबी ट्रिप होता है,उसे कहते है ओवरलोड ।

  9. एमसीबी के अंदर arc shoot( arc runner)का इस्तेमाल क्यों किया जाता है।

    जैसे ही overcurrent की स्थिति आती ही तब मैग्नेटिक फील्ड बढ़ता है उसके बाद electromagnet सिलेंडर को प्रेस करके कॉन्टक्ट ओपन करता है लेकिन स्ट्रिंग मैग्नेटिक फील्ड की वजह से air discharge होता है (याने करेंट हवा से भी बह सकता है तो उसको absorb करने के लिए आर्क शूट का इस्तेमाल किया जाता है।

तो दोस्तों MCB in hindi ये आर्टिकल आपको कैसा लगा?, अगर थोडा भी पसंद आया हो या इस आर्टिकल की वजह से आपको थोड़ी मदद मिली हो तो इस आर्टिकल को आपके दोस्तों तक जरुर शेयर करे |

धन्यवाद |

Previous articleTransformer related questions and answer, ट्रांसफार्मर से जुड़े प्रश्न उत्तर सरल भाषा में (25+)|
Next articleDiode In Hindi | डायोड क्या है, कार्य सिद्धांत, प्रकार, उपयोग.
नमस्ते दोस्तों Electrical dose इस ब्लॉग्गिंग वेबसाइट में आपका स्वागत है | इस वेबसाइट में हम आपको इलेक्ट्रिकल, इलेक्ट्रॉनिक्स के बारेमे बोहोत सारी अछि महत्वपूर्ण,और उपयोगी जानकारी जानकारी देते है. मैंने इलेक्ट्रिकल अभियांत्रिकी याने electrical engineering में diploma और Bachelor of engineering की है मुझे इलेक्ट्रिकल के बारेमे थोड़ी बोहोत जानकारी है, इसी लिए मैंने यह तय कर लिया की इस क्षेत्र में ब्लॉग बनाऊ और थोड़ी बोहोत जानकारी आपतक पहुचाऊ |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here