Vacuum Circuit Breaker in hindi | वैक्यूम सर्किट ब्रेकर क्या है पूरी जानकरी

0
707

Vacuum  circuit breaker in hindi इस आर्टिकल में हम वैक्यूम सर्किट क्या है VCB क्या है ?, और इसका कार्यसिद्धन्त याने की working principle of  vaccum circuit breaker

साथी साथ इसके फायदे और नुकसान  भी जाननेकी कोशिश करेंगे और वैक्यूम सर्किट ब्रेकर का इस्तेमाल application of  वैक्यूम सर्किट ब्रेकर   कहा पर किया जाता है इसके बारेमे भी जानेंगे | 


Vacuum Circuit Breaker showing fixed contact and moving contact as well as belllows arching range
Vacuum Circuit Breaker in Hindi 

वैक्यूम सर्किट ब्रेकर क्या है? (What is a vacuum circuit breaker in Hindi) :-

इस सर्किट ब्रेकर में vacuum का इस्तेमाल arc को बुझाने के लिए किया जाता है | VCB में वैक्यूम की सिमा  10^-7 से 10^-5 torr तक होती है | Vacuum की इन्सुलेशन strenght ज्यादा होने की वजह से दूसरे मध्यम से इसकी क्षमता ज्यादा होती है | 

जब वैक्यूम में ब्रेकर के कॉन्टेक्ट्स ओपन हो जाते है तब दो कॉन्टेक्ट्स के बिच में dielectric strengh बोहोत ज्यादा होती है याने 1000 गुना ज्यादा होती है दूसरे सर्किट ब्रेकर के मुकाबले |

इनका इस्तेमाल substation, industries, power plant में किया जाता है | इसका इस्तेमाल 11 Kv से लेकर 33 Kv तक किया जाता है, अगर इसके ऊपर के वोल्टेज में इसका इस्तेमाल करे तो price के हिसाब से वह महंगा हो जाएगा | 

इसमें फिक्स और मूविंग कॉन्टैक्ट होते है जिन्हे वैक्यूम के अंदर बोहोत अच्छे से सील किया होता है ताकि बाहरी तत्व अंदर ना जा सके इसके कारन VCB बोहोत कार्यकुशल है | 

VCB के contacts को बनाने के लिए Cu / Cr का इस्तेमाल करना अच्छा होता है | इस circuit breaker की खोज 1960 में की गयी थी आज भी इस सर्किट ब्रेकर में डेवलपमेंट की जा रही है | 

यह भी पढ़े :- Speed control of DC motor 

वैक्यूम सर्किट ब्रेकर कार्य सिद्धांत (Vacuum Circuit Breaker  principle) :-

जब VCB के कॉन्टेक्ट्स vacuum में खुलते है तब दोनों contacts बिच में arc उत्पन्न हो जाती है यह arc धातु के ionisation की वजह से उत्पन्न होती है। यह arc उत्पन्न होने के तुरंत बोहोत ही तेजी से बुझ जाती है क्यू की यह metalic vapours होती है | 

जब arc उत्पन्न होती है तब electrons और ions भी तैयार होते है और यह  से कॉन्टेक्ट्स के ऊपर condense हो जाती है, इसकी वजह से जैसे ही आर्क उत्पन्न होती है vacuum के dielectric strengh की वजह से तुरंत बुझ जाती है | इसमें एक महत्व पूर्ण बात ये है की Arc quenching medium याने की वैक्यूम होता है | 


वैक्यूम सर्किट ब्रेकर की बनावट (Construction of vacuum circuit breaker ) :-

ऊपर दिखाई गए चित्र में हम वैक्यूम सर्किट ब्रेकर की बनावट अच्छी तरह से देख सकते है |  इसमें फिक्स कॉन्टेक्ट्स, मूविंग कॉन्टेक्ट्स और arc shiled होती है यह पुरे पुर्जे वैक्यूम के अंदर ही होते है, हिलने वाला कॉनटैक्ट याने मूवेबल कॉन्टैक्ट control mechanism के साथ जुड़ा होता है एक stainless steel bellows की  मदद से |

स्टेनलेस स्टील बेलौस वजह से वैक्यूम चेम्बर बोहोत अच्छे से सील हो जाता है इसकी वजह से leak याने की रिसाव  समस्या नहीं आती है | 

 Glass vessel या फिर ceramic vessel  इस्तेमाल बाहरी insulating  ढांचा बनाने के लिए इस्तेमाल होता है | VCB की dielectric strength हवा के मुकाबले आठ गुना और SF6 circuit breaker के मुकाबले चार गुना अछि होती है | 

वैक्यूम सर्किट ब्रेकर के काम करने का तरीका ( vacuum circuit breaker working principle ) :-

जब VCB ऑपरेट होता है तब moving contact fixed contact से अलग हो जाता है और उसकी वजह से दोनों कॉन्टेक्ट्स के बिच में arc उत्पन्न हो जाती है | यह arc इसलिए उत्पन्न होती है क्यू की कॉनटैक्ट के मेटल का ionisation हो  जाता है और arc उत्पन्न होती है | Arc इसपर भी निर्भर होता है की कॉन्टेक्ट्स में कितना मेटल है | 

Arc बोहोत तेजीसे बुझ जाती है क्यू की यह एक metalic vapour होती है electrons और ions arc बुझने दौरान तैयार होते है और यह electrons और ions fixed और moving contacts  के अंदर सोख लिए जाते है | 

Vacuum की dielectric strenght की recovery बोहोत तेजीसे होती है| जब arc उत्पन्न होती है और वैक्यूम की मदद से बुझ जाती है तब contacts  में का अंतर 0.625 cm होता है | 

यह ही पढ़े :- Pmmc instrument क्या है ?

वैक्यूम सर्किट ब्रेकर के फायदे (Advantages of vacuum circuit breaker) :-

  1. आग से खतरा नहीं होता है | 
  2. इसका आकर छोटा होता है इसलिए  इस्तेमाल करने में आसानी होती है |
  3. लॉन्गर लाइफ याने की  समय तक काम करता रहता है | 
  4. ऑपरेशन के समय किसीतरह का गैस उत्पन्न नहीं होती है | 
  5. VCB बोहोत ही अछि तरह से heavy current को break कर सकता है | 
  6. Maintenace बोहोत कम होता है,  ऑपरेशन  दौरान किसी तरह आवाज नहीं  होता है | | 
  7. यह सर्किट ब्रेकर lighting strick को भी सहन कर सकता है | 
  8. इसमें आर्क एनर्जी कम होती है | 
  9. VCB Indoor और साथी साथ Outdoor में उपलब्ध होता है | 

वैक्यूम सर्किट ब्रेकर के नुकसान  (Disdvantages of vacuum circuit breaker) :-

  1. इसका मुख्य नुसकान या disadvantage ये है की 38 KVolt के  इस्तेमाल करना price के हिसाब से नुकसान  देय है | 
  2. One Time इन्वेस्टमेंट करे तो प्रोडक्ट की प्राइस बोहोत ज्यादा है | 
  3. जैसे जैसे वोल्टेज रेटिंग बढ़ता जायेगा वैसे ही इसका प्राइस भी बढ़ता जायेगा | 
  4. अगर VCB का प्रोडक्शन करना  हो तो कम मात्रा में नहीं कर सकते कम मात्रा में करने से नुकसान होगा | 
  5. Vacuum की मात्रा को एक जैसा बनाये रखना पड़ता है | 

Vacuum circuit breaker MCQ type question with the answer:-

१) Cost और बाकिकी चींजो को ध्यान में रखते हुए निचे दिए गए सर्किट ब्रेकर में से capacitor bank switching के लिए सबसे बेहतर कोन्स है ?

b. Vacuum circuit breaker 
c. SF6 circuit breaker 
e. Air Circuit breaker 

२)आमतौर पर ग्रामीण इलाकों में कोनसा circuit breaker इस्तेमाल किया जाता है ?

a. Oil circuit breaker
b. Vacuum circuit breaker  
c. SF6 circuit breaker 

३) Circuit Breaker एक ऐसा device है जो की —-

a. Power factor को सही करता है | 
b. Transient effect को neutralize करता है | 
c. Waveform को सही करता है | 
e. Current inerrupting device 

४) Circuit breaker में निचे दिखाए पार्ट्स में से कोनसा कांटेक्ट नहीं है 

a. Vacuum  
b. Pneumatic 
c. Electro pneumatic 
e. Electro magnetic 

५) सर्किट ब्रेकर में कांटेक्ट का रेजिस्टेंस कितना होता है ?

a. 200 ohm +-10  
b. 20 mirco ohm  +-10 
c. 20 ohm 
e. 200 ohm 

६) Arc को बुझाने के लिए किसका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए ?

a. Water 
b. Air 
c. SF6 gas 
e. Vacuum 

Answer:-
१) Vacuum circuit breaker 
२) Vacuum CB  
३) Current interrupting device 
४) Vacuum 
५) 20 Mirco ohm  +-10 
६) Water 

FAQs related to Vacuum circuit breaker ( VCB से जुड़े प्रश्न उत्तर ):-

Q. VCB का वर्किंग प्रिंसिपल क्या है ?

उत्तर :- 

जब VCB ऑपरेट होता है तब moving contact fixed contact से अलग हो जाता है और उसकी वजह से दोनों कॉन्टेक्ट्स के बिच में arc उत्पन्न हो जाती है | यह arc इसलिए उत्पन्न होती है क्यू की कॉनटैक्ट के मेटल का ionisation हो  जाता है और arc उत्पन्न होती है |

Arc बोहोत तेजीसे बुझ जाती है क्यू की यह एक metalic vapour होती है electrons और ions arc बुझने दौरान तैयार होते है और यह electrons और ions fixed और moving contacts  के अंदर सोख लिए जाते है | 

Q. Vacuum circuit breaker का इस्तेमाल कहा पर किया जाता है ? ( What are the application of VCB )

उत्तर:- इनका ज्यादा इस्तेमाल पॉवर सेक्टर में किया जाता है जैसे की Substation, power generating plant में | 

Q. VCB के फायदे कोनसे है ? ( What are the advantages of VCB )

उत्तर :- 

  1. इसका आकर छोटा होता है इसलिए  इस्तेमाल करने में आसानी होती है |
  2. लॉन्गर लाइफ याने की  समय तक काम करता रहता है | 
  3. ऑपरेशन के समय किसीतरह का गैस उत्पन्न नहीं होती है | 
  4. VCB बोहोत ही अछि तरह से heavy current को break कर सकता है | 
  5. Maintenace बोहोत कम होता है,  ऑपरेशन  दौरान किसी तरह आवाज नहीं  होता है | | 
  6. यह सर्किट ब्रेकर lighting strick को भी सहन कर सकता है | 
  7. इसमें आर्क एनर्जी कम होती है | 
  8. VCB Indoor और साथी साथ Outdoor में उपलब्ध होता है | 


Q. MCB का फुलफॉर्म क्या है ? ( what is the full form of MCB ?)

उत्तर:- Miniature Circuit Breaker 

Q. VCB और ACB में क्या अंतर है ? (What is difference between VCB and ACB ?)

उत्तर:- ACB का इस्तेमाल कम वोल्टेज एप्लीकेशन ( 690 volt से कम ) के लिए किया जाता है याने लौ टेंशन एप्लीकेशन और VCB का इस्तेमाल 33Kv के निचे किया जाता है | 

Q. VCB में कितना वैक्यूम होता है ?
उत्तर:- 10^-7 से 10^-5 torr तक होती है |


यह भी पढ़े:-

Vacuum Circuit Breaker in hindi | वैक्यूम सर्किट ब्रेकर क्या है पूरी जानकरी ? कार्य सिद्धांत, रचना और उपयोग आज हमने इस आर्टिकल में देखा आशा है की आपको कुछ सीखने को मिला होगा अगर आपका कुछ सुझाव है तो कमेंट बॉक्स में जरूर बताना, अगर आपको यह  लगी हो तो दोस्तों  साथ जरूर share करे| 

अगर  आपको यह आर्टिकल अच्छा लगे तो facebook. instagram twitter जैसे social network पर जरुर share करना 

धन्यवाद !

Previous articleSF6 circuit breaker in hindi | SF6 सर्किट ब्रेकर क्या है ?
Next articleOil circuit breaker in hindi | Oil circuit breaker प्रकार और पूरी जानकारी
नमस्ते दोस्तों Electrical dose इस ब्लॉग्गिंग वेबसाइट में आपका स्वागत है | इस वेबसाइट में हम आपको इलेक्ट्रिकल, इलेक्ट्रॉनिक्स के बारेमे बोहोत सारी अछि महत्वपूर्ण,और उपयोगी जानकारी जानकारी देते है. मैंने इलेक्ट्रिकल अभियांत्रिकी याने electrical engineering में diploma और Bachelor of engineering की है मुझे इलेक्ट्रिकल के बारेमे थोड़ी बोहोत जानकारी है, इसी लिए मैंने यह तय कर लिया की इस क्षेत्र में ब्लॉग बनाऊ और थोड़ी बोहोत जानकारी आपतक पहुचाऊ |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here