Skin effect in transmission line in Hindi | स्किन इफ़ेक्ट क्या है ?

0
1158

तो इस आर्टिकल में हम जानेंगे की skin effect क्या होता है उसकी वजह से ट्रांसमिशन लाइन्स (effect of skin effect in transmisssion line) में क्या फरक पड़ता है |

साथी साथ ये भी देखेंगे की स्कोकिन इफ़ेक्ट को कैसे कम किया जाये how to reduse skin effect इन सवालों का जवाब हम देखेंगे .

What is skin effect in hindi? (स्किन इफ़ेक्ट क्या है ) :-

जब प्रत्यावर्ती धारा याने की alternating current कंडक्टर में से गुजरता है तब वह पुरे  कंडक्टर पर एक समान वितरित नहीं होता है . कंडक्टर के वे हिस्से जो सतह पर या उसके पास स्थित होते हैं, वे कुल करंट का एक बड़ा हिस्सा ले जाते हैं इसी को हम skin effect कहते है|

Skin effect in transmission line in hindi | स्किन इफ़ेक्ट क्या है ?
skin effect in transmission line

Why skin effect in the transmission line (ट्रांसमिशन लाइन में स्किन इफ़ेक्ट क्यू होता है ) :-

  • जब डायरेक्ट करंट कंडक्टर में से जाता है तब हव समान रूप से पुरे कंडक्टर पर फ़ैल जाता है क्यू की उसमे सिर्फ रेजिस्टेंस ही रूकावट डालती है और डायरेक्ट करंट में inductive reactace nahi होता इसी लिए रेअक्टांस से किसी भी प्रकार की रूकावट नहीं होती और current पुरे conductor पर से जाता है|
  • अगर हम एक उदाहरण से देखे तो अगर हम एक solid conductor जो current को फ्लो कर सजे और आकार में गोल हो जैसा की निचे चित्र में दिखाया है |
  • Skin effect in transmission line in hindi | स्किन इफ़ेक्ट क्या है ?
    skin effect in transmission line
  • अगर हम इस conductor को बोहोत सारे छोटे conductor ओए element  को लेकर एक बंडल बनाकर इस्तेमाल करे तब हर एक conductor और element पुरे current का एक छोटा सा हिसा फ्लो करेगा और उसकी वजह से एक magnetic filed भी तयार हो जाएगी.
  • Element ‘a’ की वजह से flux उत्पन्न होगा हव दुसरे elements से लिंक नहीं होगा. element ‘a’ में ज्यादा flux रहेगा तब उसका inductance भी element ‘b’ से ज्यादा रहेगा |
  • अन्दर वाले elements में ज्यादा रेअक्टांस रहेगा तो उसी conductor के surface के पास से current ज्यादा फ्लो होगा
  • निचे दिखाई गई चित्र में हम देख सकते है की किस प्रकार असमान रूप से current फ्लो होता है |
Skin effect in transmission line in hindi | स्किन इफ़ेक्ट क्या है ?
skin effect in transmission line

Skin effect depends on following factor (स्किन इफ़ेक्ट निचे दे गए तत्व पर आधारित होता है ):-

1) Frequency (आवृत्ति ):-

skin effect inductive reactance की वजह से होता है और इंडक्टिव रेअक्टैंस आवृति के समानुपात होती है इसलिए frequency बढ़ने से स्किन इफ़ेक्ट बढ़ता है |

2) Diameter (व्यास) :-

Diameter बढ़ने से स्किन इफ़ेक्ट बढ़ता है |

3) Shape of wire (तार का आकार ) :-

Soild कंडक्टर में ज्यादा स्किन इफ़ेक्ट होता है क्यू की solid conductor का aera ज्यादा होता है|
 

4) Nature of material (सामग्री की प्रकृति):-  

अगर frequency 50 Hz से कम होगी और कंडक्टर का diameter याने व्यास 1 cm से कम होगा तब स्किन इफ़ेक्ट ना के बराबर होता है |

Effect of skin effect (स्किन इफ़ेक्ट के  प्रभाव):-

  • कंडक्टर का प्रभावी क्रॉस सेक्शन कंडक्टर के प्रतिरोध को कम करके करंट के प्रवाह को बढ़ता है |
  • इसकी वजह से trasnmission line में copper losses बढ़ाते है |
  • साथी साथ transmission line में voltag drop भी बढ़ता है |
  • Copper losses और voltag drop की वजह से trasnmission line की efficiency कम हो जाती है और साथी साथ voltage regulation पर भी प्रभाव पड़ता है |

How to reduse skin effect (स्किन इफ़ेक्ट को कैसे कम करे ):-

  1. Solid wire के बजाय stranded wire का अगर इस्तेमाल करे तो स्किन इफ़ेक्ट कम होता है | क्यू की ऐसा करने से सरफेस एरिया बढ़ता है सेम wire gauge के लिए |
  2. Tinned wire का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए क्यू की tin में resistance ज्यादा होता है copper और aluminum के बजाये |
  3. साधारण conductor होते है उसमे skin effect को कम nahi किया जा सकता है क्यू की cost को भी ध्यान में रखना पड़ता है, इस लिए उधर tubular conductor का इस्तेमाल किया जाता है |
  4. Tubular conductor से skin effect पे इतना ज्यादा फरक नहीं पड़ता लेकिन उसकी वजह से copper की बचत होती है |
  5. अगर कुछ खास उपकरण बनाने हो जैसे की high frequency transformer winding 1MHz frequency  तब special insulated conductor जैसे की ‘litz, wire का इस्तेमाल किया जाता है
यह भी पढ़े
Previous articleWind Energy and wind turbine In Hindi | पवन ऊर्जा पूरी जानकारी
Next articleFire extinguisher in hindi | फायर के प्रकार पूरी जानकारी
नमस्ते दोस्तों Electrical dose इस ब्लॉग्गिंग वेबसाइट में आपका स्वागत है | इस वेबसाइट में हम आपको इलेक्ट्रिकल, इलेक्ट्रॉनिक्स के बारेमे बोहोत सारी अछि महत्वपूर्ण,और उपयोगी जानकारी जानकारी देते है. मैंने इलेक्ट्रिकल अभियांत्रिकी याने electrical engineering में diploma और Bachelor of engineering की है मुझे इलेक्ट्रिकल के बारेमे थोड़ी बोहोत जानकारी है, इसी लिए मैंने यह तय कर लिया की इस क्षेत्र में ब्लॉग बनाऊ और थोड़ी बोहोत जानकारी आपतक पहुचाऊ |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here